350वें प्रकाशोत्सव के समापन समारोह में शामिल होंगे राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री, …जानिए

गुरु गोविंद सिंह महाराज के 350वें प्रकाश पर्व के समापन समारोह में देश-विदेश के करीब दो लाख श्रद्धालुओं के साथ ही राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी शामिल होंगे।

कंगन घाट और बाइपास में टेंट सिटी का निर्माण होगा। 10 जगहों पर लंगर की व्यवस्था होगी। बाइपास, तख्त श्री हरिमंदिर जी पटना साहिब से लेकर कंगन घाट तक एलईडी रंगीन लाइट से सजाया जाएगा।

वे लोग जो प्रकाश पर्व में शामिल नहीं हुए थे, वे इसबार आने के लिए ज्यादा उत्साहित हैं। अमेरिका और लंदन से पिछली बार से ज्यादा श्रद्धालुओं के आने की उम्मीद है। हरियाणा, पंजाब, उत्तरप्रदेश, झारखंड, बंगाल, ओडिशा, दिल्ली, मध्यप्रदेश और अन्य दूसरे राज्यों से भी श्रद्धालु आएंगे।

श्रद्धालुओं के लिए रेलवे स्टेशन से कंगन घाट, तख्त श्री हरिमंदिर जी पटना साहिब, दानापुर हांडी साहिब घाट और टेंट सिटी तक स्पेशल बसें चलेंगी। साथ ही राजगीर, पावापुरी, नालंदा, बोधगया और अन्य पर्यटन स्थलों पर घुमाने के लिए छोटे-बड़े वाहन चलेंगे। इसके अलावा कंगन घाट से स्टीमर भी चलेगा, जो गंगा के रास्ते श्रद्धालुओं को दानापुर हांडी घाट पहुंचाएगा।

समारोह में शामिल होने के लिए गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी द्वारा राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री को पत्र भेजा जाएगा। पूरी उम्मीद है कि उनकी मंजूरी मिल जाएगी। देश-विदेश से करीब दो लाख श्रद्धालु पहुंचेंगे। तैयारी जोर-शोर से चल रही है।
-आरएस जीत, सीनियर वाइस प्रेसिडेंट, गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी

श्रद्धालुओं के ठहरने के लिए टेंट सिटी बनेगी। इसके लिए जगह का चयन हो गया है। कंगन घाट के सौंदर्यीकरण का काम चल रही है। श्रद्धालुओं को लिए छोटे-बड़े वाहन की सुविधा होगी। श्रद्धालुओं को हर संभव बेहतर सुविधा दी जाएगी।
-इनायत खान, एमडी, पर्यटन निगम

पढ़े :   आखिर क्यों मनाते हैं होली? ...जानें विभिन्न प्रदेशों की परम्पराएं

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error: Content is protected !!