डेनमार्क की मदद से मकर संक्रांति में इस बार दही नहीं होगी खट्टी, …जानिए

पटना. जी हाँ मकर संक्रान्ति में राजधानीवासियों को दूध और दही की कमी महसूस नहीं होगी और दही न तो जल्दी खट्टा होगा। इस बार के संक्रांति में डेयरी डेनमार्क के जोरन के साथ दही को परोस रही है। संक्रांति की तैयारी में सुधा डेयरी पिछले दो महीने से लगी हुई है।

सुधा के महाप्रबंधक सुधीर कुमार सिंह ने खुद संक्रांति की तैयारियों की कमान सम्भाल रखी है। उन्होंने बताया कि लोगों की जरूरतों को ध्यान में रखकर सुधा डेयरी ने मकर सक्रांति के पूर्व से ही इसकी अपनी स्टॉक को बढ़ा दिया है।

डेयरी के महाप्रबंधक सुधीर कुमार की मानें तो पिछले तीन साल से सुधा संक्रांति में दही जमाने के लिये डेनमार्क की मदद ले रहा है। दरअसल डेनमार्क विश्व का सबसे बड़ा दूध उत्पादक और डेयरी उत्पाद बनाने वाला देश है। सुधा वहां से खास तौर पर जोरन मंगाता है ताकि लोगों को सही रूप से दही का जायका मिल सके।

एमडी के मुताबिक डेनमार्क के सीएचआर हेंसिस कंपनी से आये जोरन का उपयोग दही जमाने में होता है। ये जोरन इस मायने में खास होता है कि इससे तैयार दही न तो जल्दी खट्टा होता है और न ही इसे खाने पर पेट में गैस की समस्या होती है। एमडी ने बताया कि ये पूरी तरह से आइसोलेटेड दही होता है जो काफी दिनों तक खराब नहीं होता।

सुधीर ने बताया कि इस बार पटना डेयरी प्रोजेक्ट ने मकर संक्राति के लिये 26 लाख लीटर दूध की बिक्री का लक्ष्य रखा है। पिछले साल सिर्फ 24 लाख लीटर दूध की खपत मकर संक्रांति के समय में हुई थी लेकिन दही और चुड़ा का पर्व है तो जाहिर सी बात है कि दही की खपत ज्यादा होगी। खपत को देखते हुए इस बार 2 लाख 60 हजार किलोग्राम दही बेचने का लक्ष्य रखा गया है जो की पिछले बार की खपत की अपेक्षा में 52 हजार किलोग्राम ज्यादा है।

पढ़े :   बिहार के एडीजी, आईजी समेत 16 पुलिसकर्मियों को राष्ट्रपति पदक

पिछली बार 2 लाख 8 हजार किलोग्राम की खपत हुई थी। लोगों की मांग को देखते हुए एक किलोग्राम के जार को लाया गया है जो लोगों के छोटे परिवार के लिए सुविधाजनक होगा। इसके आलावे 100 ग्राम, 200 ग्राम, 400 ग्राम के दही कप में मिलेंगे जबकि 500 ​​ग्राम दही पाउच में उपलब्ध रहेगा।

इसके अलावा 2 किलोग्राम, 5 किलोग्राम, 16 किलोग्राम और 18 किलोग्राम के जार में दही मिलेगा। डेयरी प्रबंधन की ओर से कल से दही एक्सप्रेस भी चलाया जा रहा है साथ ही दूध के 6 टैंकर भी डेयरी की ओर से चलाया जा रहा है। ये टैंकर राजधानी के सिटी चौक, बोरिंग रोड, राजेन्द्रनगर, कदमकुआं, राजवंशीनगर और जगदेवपथ इलाकों में मौजूद रहेंगे।

Rohit Kumar

Founder- livebiharnews.in & Blogger- hinglishmehelp.com | STUDENT

Leave a Reply

error: Content is protected !!