UPSC की IES परीक्षा में पूर्णिया की बेटी ने बढ़ाया बिहार का मान

बिहार के पूर्णिया शहर के शारदा नगर के रहने वाले मदन प्रसाद गुप्ता की बड़ी बेटी स्मिता कुमारी ने यूपीएससी की परीक्षा आईईएस में 36वां रैंक लाकर पूरे भारत में बिहार का नाम रोशन किया है।

बचपन से पढ़ने में मेहनती और लगनशील रही स्मिता को पढ़ाई के अलावा कथक में भी महारथ हासिल है। स्मिता की मां सरिता देवी बताती हैं कि कभी गरीबी के कारण वो नहीं पढ़ सकी जिसका मलाल अभी तक है, लेकिन बटी ने यह सफलता हासिल कर मेरा सर गर्व से ऊंचा कर दिया।

उन्होंने कहा कि मैं हमेशा स्मिता को सोने के लिए बोलती थी, न कि पढ़ने के लिए। वहीं स्मिता के पिता मदन प्रसाद गुप्ता ने कहा कि कभी भी बेटी-बेटा में फर्क नहीं करना चाहिए। स्मिता बेहद सहज व सरल स्वभाव की है। किसी की मदद को हमेशा तैयार रहती है। बेटी का होना अभिशाप नहीं वरदान है। मैंने तीनों बेटियों में दुर्गा, लक्ष्मी व सरस्वती का रुप देखा है।

वहीं दो छोटी बहन पल्लवी और सुरभि भी बहन की सफलता से खुश नजर आई। स्मिता का बड़ा भाई अविनाश कुमार पेशे से सॉफ्टवेयर इंजीनियर है।

मेरा सपना आईएएस बनने का है: स्मिता
वहीं स्मिता ने फोन पर बताया मेरी सफलता का श्रेय माता पिता है। जिन्होंने मेरी हिम्मत को कभी तोड़ा नहीं बल्कि बढ़ावा दिया, जिससे मै यह मुकाम पा सकी। वहीं सफलता से खुश तो हूं लेकिन संतुष्ट नहीं। मेरा सपना सिविल सर्विस पास कर आईएएस बनना है। वहीं लड़कियों को संदेश देते हुए कहा कि कभी हिम्मत मत हारो।

पढ़े :   समुद्र मंथन की कहानी आज भी बयां कर रहा बिहार का यह पहाड़, निकला था हलाहल और 14 रत्न

पहले इन परीक्षाओं में हुआ है चयन
– वैज्ञानिक के रूप में बी एसटीक्यूसी, इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय, भारत सरकार
– बीएसएनएल में डायरेक्टर, जेटीओ
– इलेक्ट्रॉनिक्स और दूरसंचार इंजीनियरिंग विभाग में आईईएस द्वारा चयन

Leave a Reply

error: Content is protected !!