हाईटेक है बिहार का ये सरकारी स्कूल, …जानिए

एक तरफ शिक्षा के लगातार गिरते स्तर के आरोपों से बिहार सरकार निशाने पर हैं। वही रोहतास जिले में एक सरकारी स्कूल ऐसा भी है जो बड़े बड़े निजी स्कूलों को भी मात दे रहा है। तिलौथू के हुरका गांव का राजकीय माध्यमिक विद्यालय आज दूसरे सरकारी स्कूलों लिए नजीर बन गया है। आइए आपको बताते हैं कि इस सरकारी स्कूल में क्या खास हैं…

इस राजकीय मध्य विद्यालय के छात्रों के लिए गेट पास आते समय और जाते समय दिखाना जरूरी है। गेट पास नहीं होने पर स्कूल में एंट्री नहीं होती है।

इसके साथ छात्रों और शिक्षकों का बायोमेट्रिक तरीके से स्कूल आने और जाने के समय अटेंडेस बनाया जाता है।

स्कूल परिसर साफ सुथरा ऐसा है कि प्राइवेट स्कूल भी इस तरह की साफ सफाई मिलना शायद मुश्किल है। ग्रामीण अपने स्तर से सफाई कर्मियों को नियुक्त कर इसका ख्याल रखते हैं। यहां बच्चे झाडू नहीं लगाते हैं।

इसके अलावा स्कूल में कुल 14 शौचालय हैं। लड़के तथा लड़कियों के लिए अलग अलग 5 शौचालय हैं, जो पूरी तरह स्वच्छ है। शौचलाय में साफ सफाई की व्यवस्था किसी अच्छे होटल के शौचालय की तरह है।

हर बेसिन में हाथ धोने के लिए साबुन और पीने का अलग पानी का नल मौजूद है। क्लास के बाहर मिनरल वाटर की व्यवस्था है।

इस सरकारी स्कूल में प्रतिदिन योगा और कसरत की क्लास होती है। तीन महीने पर विशेष परीक्षा की जाती है। प्रति माह अभिभावक, शिक्षक, विद्यालय शिक्षा समिति और छात्रों की संयुक्त बैठक होती है।

इस स्कूल के स्टूडेंट्स कक्षा के बाहर कतार में जूते खोल कर पढ़ाई करते हैं क्योकि कक्षा को वे विद्या का मंदिर मानते हैं। क्लास में शिक्षक तथा छात्र जूता पहन पर प्रवेश नहीं कर सकते है।

पढ़े :   IPL की नीलामी में बिहार के लाल नदीम ने युवराज, गंभीर, हरभजन जैसे दिग्गजों को दिया पछाड़, ...जानिए

Leave a Reply

error: Content is protected !!