बिहार के लाल 11 वर्षीय आयुष ने फ्यूज बल्ब और जूते के कार्टून से बना दिया मिनी प्रोजेक्टर

बिहार में प्रतिभावानों की कमी नही है, बिहार के युवा हर जगह अपना परचम अपने कार्यो की बदौलत लहराते रहे हैं। आज हम बात कर रहे है बिहार के दरभंगा के अल्लपट्टी में रहने वाले आयुष दीप की उम्र मात्र 11 वर्ष है लेकिन उसके कारनामे कहीं से उसकी उम्र से मेल नहीं खाते।

जी हाँ उसने घरेलु नुस्खे से मिनी प्रोजेक्टर बनाकर सबको हैरान कर दिया है। आयुष दरभंगा के अल्लपट्टी के वुडबाईन स्कूल का छात्र है। पिता मनोज कुमार और कंचन कामिनी बताते हैं कि आयुष हमेशा कुछ न कुछ नया करने का सोचता रहता है। वहीं इनके दादा जी विनोद कुमार बतातें है, आयुष आगे जाकर वैज्ञानिक बनना चाहता है।

बातचीत के दौरान आयुष दीप ने बताया कि उसने एक 100 वाट के बल्ब की मदद से अपने प्रोजेक्ट को पूरा किया है। उसने बताया की सबसे पहले 100 वाट के एक बल्ब से सावधानी पुर्वक अंदर का टंगस्टन को निकालकर उसमें सादा पानी भरने के बाद, कोई भी जुता या चप्पल का कार्टुन लेकर उसमें बल्ब को सेट कर दिया और प्रयोग के तौर पर मोबाइल का कोई भी विडियो चलाने के बाद यह प्रोजेक्टर की तरह अँधेरे कमरे में सफ़ेद दीवार पर विडियो का प्रतिबिम्ब दिखाने लगा।

पढ़े :   बिहार की बहू अनिता ने अपने नाम किया मिसेज इंडिया यूनिवर्स का खिताब

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error: Content is protected !!