बिहार के लाल ने बनाई अनोखी डिवाइस, अब बगैर हेलमेट नहीं होगी स्टार्ट बाइक

ट्रैफिक रूल का पालन कराने के लिए तथा सरकार द्वारा लाख प्रयास के बाद भी हेलमेट की अनिवार्यता को लागू नहीं किया जा सका। जिसके चलते आये दिन दुर्घटनाओं में ब्रेन की चोट की वजह से हजारों लोगों की मौत होती है। इससे निबटने के लिए सरकार के पास ना तो कोई भी ठोस उपाय ही हो पाया नाही कोई नई तकनीक ही लागू की जा सकी।

लेकिन अब ऐसा नहीं हो इसके लिए बिहार के गोपालगंज जिले बभनी के दीप देव मिश्र ने बाइक चालकों के लिए एक डिवाइस बनाया है। यह डिवाइस जब बाइक व हेलमेट में लगवा लेंगे तो बगैर हेलमेट पहने बाइक स्टार्ट ही नहीं होगी। बाइक चलाने वालों को मजबूूरी में हेलमेट पहनना होगा। जिससे बाइक चलाते वक्त सुरक्षित रहेंगे।

कौन है दीप देव मिश्र
गोपालगंज के कटेया प्रखंड के बभनी गांव निवासी किसान चंद्रभूषण मिश्र के पुत्र दीप देव मिश्र चार भाई में सबसे छोटा है। उसने जो मन में ठान लिया उसी को लक्ष्य बना लिया। आिर्थक तंगी के कारण आठवीं तक ही पढ़ाई हो पाई। 2008 में वह यूपी के तमकुही राज में एक बाइक गैरेज पर काम करने लगा। वहां वह आये दिन नये-नये तकनीक विकसित करने के लिए प्रयास करता था।

ऐसे कार्य करेगा डिवाइस
हेलमेट पहन कर जैसे ही हम बाइक को स्टार्ट होगा। जैसे ही हेलमेट निकालेंगे आपकी बाइक बंद हो जाएगी। डिवाइस में सेंसर लगा हुआ है। उसमें सूखा सेल वाला दो बैट्री है। बाइक व हेलमेट में रेडियो कीट लगा है। तार का कोई झंझट नहीं है। बाइक कहीं भी इस कीट लगा दिया जाता है। ऐसे ही एक कीट को हेलमेट में भी लगा दिया जाता है। जिसके बाद हेलमेट पहनते ही दोनों आपस में कनेक्ट हो जाते है।

पढ़े :   इस तारीख को रिलीज हो रही है सुपर 30 के संस्थापक आनंद कुमार पर बनी फिल्म, ...जानिए

मोबाइल से वाहन को लॉक करने का इजाद किया था
दो वर्ष पूर्व दीपू ने एक ऐसी तकनीक विकसित की थी। जिसके माध्यम से किसी वाहन को मोबाइल से बात कर लॉक किया जा सकता था। अगर आपकी बाइक चोरी हो जाती है तो परेशान होने की जरूरत नहीं है। बस अपने मोबाइल के एक मिस काल से आपकी बाइक जहां रहती है वहीं बंद हो जाती है। दीप देव ने बाइक चोरी की घटना की रोकथाम के लिए इस तकनीक का इजाद किया था।

Leave a Reply

error: Content is protected !!