दुबई के रेगिस्तान से लेकर अमेरिका के नदी के तट पर पहुंचा छठ

सूर्योपासना का पर्व छठ दरअसल प्रकृति की अनंत, अक्षय विराटता की उपासना है। कभी क्षेत्रीय स्तर पर मनाया जानेवाला यह लोकपर्व अब वैश्विक पहचान बनाने लगा है।

लेकिन, खास बात यह है कि ग्लोबल दुनिया में छठ की धार्मिक-सांस्कृतिक मान्यताएं एवं स्थापनाएं पूर्ववत हैं और विरासत का विस्तार हो रहा है। ग्लोबल दुनिया में यह पर्व बिहार की अस्मिता को अलग पहचान देता है।

छठ पूजा जिस आस्था के साथ अपने यहां मनाई जा रही है, सात समंदर पार भी लोग इस महापर्व को उतनी ही आस्था से से मनाते हैं। दुबई, नेपाल, फिजी, सूरिनाम, मॉरिशस से लेकर इंगलैंड, ऑस्ट्रेलिया, अमेरिका तक में भी छठ मनाया जा रहा है।

यह पर्व न सिर्फ मनाया जा रहा है बल्कि पीढ़ी दर पीढ़ी स्थानान्तरित भी हो रहा है। इसने बिहार की सांस्कृतिक विरासत को न सिर्फ थामे रखा है, बल्कि बढ़ा भी रहा है।

पढ़े :   राष्ट्रपति कोविंद का देश के नाम पहला संबोधन- 'न्‍यू इंडिया बनाएंगे, जिसमें गरीबी की कोई जगह नहीं होगी'

Rohit Kumar

Founder- livebiharnews.in & Blogger- hinglishmehelp.com | STUDENT

Leave a Reply

error: Content is protected !!